उत्तराखंड सरकार व्यवसायियों की बढ़ती समस्याओं को ले कर गंभीर

देहरादून : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने कहा कि होटल व्यवसायियों की समस्याओं को गंभीरता से लिया जाएगा और उनके समाधान के लिए हरसंभव प्रयास किये जाएंगे उन्होंने यह भी कहा कि सरकार प्रयास कर रही है के ग्रीन जोन वाले जिलों में विभिन्न गतिविधियों में तेजी लाई जाए, ताकि अर्थव्यवस्था में कुछ सुधार हो सके।

मुख्यमंत्री आवास में होटल एसोसिएशन के पदाधिकारियों से मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उन्हें यह भरोसा दिया। होटल व्यवसायियों ने कहा कि कोरोना महामारी की वजह से राज्य में पर्यटकों एवं अन्य लोगों का आवागमन न होने से होटल संचालकों एवं होटल एसोसिएशन को तमाम समस्याओं से दो-चार होना पड़ रहा है।

कर्मचारियों को वेतन तक देने में कठिनाई पेश आ रही है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में पर्यटन के लिहाज से यह सबसे महत्वपूर्ण समय है, मगर कोरोना महामारी की वजह से अर्थव्यवस्था बुरी तरह प्रभावित हुई है। होटल एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री के समक्ष अन्य समस्याएं भी रखीं।

इस मौके पर विधायक मुन्ना सिंह चौहान, भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष अनिल गोयल, होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष संदीप साहनी, सचिव संजय अग्रवाल, प्रदीप कर्णवाल आदि उपस्थित थे।

लॉकडाउन से प्रदेश में परिवहन व्यवसाय से जुड़े हजारों लोगों के समक्ष आजीविका का संकट पैदा हो गया है। विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने इस संबंध में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से मुलाकात कर परिवहन व्यवसायियों की मांगों का निदान कराने का आग्रह किया। एक रोज पहले संयुक्त यातायात रोटेशन समेत विभिन्न परिवहन संगठनों के पदाधिकारियों ने विस अध्यक्ष को मांग पत्र सौंपा था।

इसी क्रम में विस अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री से वार्ता की और कहा कि परिवहन व्यवसाय से हजारों लोग प्रत्यक्ष व परोक्ष रूप से जुड़े हैं। लॉकडाउन के कारण उनके सामने आजीविका का संकट खड़ा हो गया है।

उन्होंने परिवहन व्यवसायियों की बिंदुवार मांगों का जिक्र भी किया। मुख्यमंत्री ने भरोसा दिलाया कि सरकार इस बारे में विचार कर रही है। जल्द ही कारगर कदम उठाए जाएंगे।

About The lifeline Today

View all posts by The lifeline Today →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *