आज भारत और अमेरिकी के बीच होगा तीन अरब डॉलर के रक्षा समझौता

सोमवार को भारत दौरे पर पहुंचे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने  मोटेरा स्टेडियम से तीन अरब डॉलर के रक्षा समझौते का एलान किया। यह समझौता दोनों देशों में आज यानी मंगलवार को होगा। ट्रंप ने कहा, हम सबसे अच्छे हेलिकॉप्टर, लड़ाकू विमान, रॉकेट, जहाज, ड्रोन और खतरनाक हथियार बनाते हैं।

ट्रंप ने कहा, तीन अरब डॉलर से ज्यादा मूल्य के सैन्य हेलीकॉप्टरों समेत रक्षा उपकरण हम भारतीय सेना को देंगे। उन्होने कहा कि “मैं मानता हूं कि अमेरिका को भारत का सबसे बड़ा रक्षा भागीदार होना चाहिए। एशिया प्रशांत क्षेत्र को सुरक्षित रखना है। हम दोनों देश एकसाथ भारतीय-प्रशांत क्षेत्र में संप्रभुता को बनाए रखने का काम करेंगे। माना जा रहा है कि मंगलवार को होने वाली इस रक्षा डील के केंद्र में एमएच-60 बहुआयामी भूमिका वाले हेलिकॉप्टर भी होंगे, जो भारतीय नौसेना की जरूरतों को ध्यान में रखकर खरीदे जाएंगे। समझौते में अमेरिकी कंपनी लॉकहीड मार्टिन से 24 एमएच-60आर सीहॉक समुद्री हेलिकॉप्टरों की खरीद शामिल है। ये हेलिकॉप्टर समुद्रों में पनडुब्बियों का पता लगाकर उन्हें तबाह करने में सक्षम माने जाते हैं। ट्रंप ने कहा, भारत और अमेरिका अंतरिक्ष के क्षेत्र में भी काम कर रहे हैं। भारत ने चंद्रयान मिशन लॉन्च किया था। इस पर आगे भी काम हो रहा है। अमेरिका इसमें सहयोग करना चाहता है। भारत के पहले अंतरिक्ष मानव मिशन में भी हम सहयोग के लिए तैयार हैं। भारत बहुत आगे आया है। यह नहीं कहा जा सकता कि भारत कितना और आगे जाएगा। दूसरे देश जो सोच भी नहीं सकते, भारत का भविष्य उसे वहां तक आगे ले जाएगा।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, मोदी और मैं कारोबारी रिश्ते बढ़ाने पर भी चर्चा करेंगे। मुझे उम्मीद है कि हम अच्छे समझौते को आकार दे सकते हैं। हालांकि, वे बहुत सख्त वार्ताकार हैं। दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय कारोबार 40 फीसदी बढ़ा है। भारत अमेरिका के लिए सबसे बड़ा एक्सपोर्ट मार्केट है। भारत की तरक्की दुनिया के लिए भी फायदेमंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *