राज्य के 8.87 लाख किसानों में से 7.20 लाख लघु एवं सीमांत किसानों को 485 करोड़ की सहायता राशि का किया जा चुका भुगतान

देहरादून-किसानों की आय दोगुना करने की कोशिशों में जुटी केंद्र और राज्य सरकार किसानों को सहायता राशि मुहैया करा रही हैं। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत 24 जनवरी 2020 तक राज्य के 719644 किसानों को प्रथम, द्वितीय और तृतीय किस्त का भुगतान हो चुका है। हालांकि, अभी भी कई लघु एवं सीमांत किसान हैं, जिनके आवेदन लंबित हैं।

अब तक उत्तराखंड के 8.87 लाख किसानों में से 7.20 लाख लघु एवं सीमांत किसानों को 485 करोड़ की सहायता राशि का भुगतान किया जा चुका है। इनमें हरिद्वार जिले के सर्वाधिक किसान शामिल हैं। कृषि मंत्री सुबोध उनियाल के अनुसार योजना में पंजीकृत कुछ किसानों के आवेदन फार्म आदि में त्रुटियां हैं, जिन्हें तत्काल दूर करने के निर्देश जिलाधिकारियों को दिए गए हैं। बताया गया कि इन किसानों के आवेदन पत्रों में कई त्रुटियां हैं। कुछ में आधार कार्ड का नंबर सही अंकित नहीं है तो कुछ में बैंक खाते के नंबर के साथ ही बैंक का आइएफएस कोड दर्ज नहीं किया गया है। कुछ मामले ऐसे भी हैं, जिनमें भूमि के गोल खातों के कारण दिक्कतें आरही हैं।

कृषि मंत्री सुबोध उनियाल के अनुसार सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में आवेदन करने वाले किसानों के आवेदन पत्रों में व्याप्त त्रुटियों को तुरंत दूर कराया जाए। उन्होंने कहा कि इससे उन किसानों को भी योजना का लाभ मिल सकेगा, जिन्होंने आवेदन किया हुआ है। इससे योजना में लाभार्थियों की संख्या में इजाफा होना तय है। साथ ही हर किसान को इसका लाभ मिल जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.