प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 3161 को पार कर गई है

देहरादून: उत्तराखंड में सोमवार को 37 नए मरीजों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही अब प्रदेश में संक्रमित मरीजों की संख्या 3161 पार पहुंच गई है। आज 62 मरीज ठीक होकर घर लौटे हैं। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, ऊधमसिंह नगर में सबसे ज्यादा 20 (एक प्राईवेट लैब से ) मामले सामने आए हैं। वहीं, अल्मोड़ा में तीन, देहरादून में चार (दो प्राईवेट लैब से ), हरिद्वार में पांच, नैनीताल में चार और पौड़ी में एक संक्रमित मरीज सामने आया है।

अब तक प्रदेश में 2586 संक्रमित मरीज ठीक होकर घर लौट चुके हैं। अभी भी 505 एक्टिव केस हैं। जबकि अब तक 42 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। उत्तराखंड में टिहरी और रुद्रप्रयाग जिले ने कोरोना से जंग जीत ली है। दोनों जिलों में कोरोना का एक भी सक्रिय मामला नहीं है। वहीं, पिथौरागढ़, चमोली, चंपावत और पौड़ी जिले भी कोरोना मुक्त होने से कुछ कदम पीछे हैं। प्रदेश में कोरोना संक्रमित मामलों की संख्या 3100 पार हो गई है।

इसमें टिहरी जिले में 420 और रुद्रप्रयाग जिले में 66 कोरोना संक्रमित मामले मिले थे। दोनों जिलों में सभी संक्रमित मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेजा गया है। हालांकि, टिहरी में दो और रुद्रप्रयाग में एक कोरोना पॉजिटिव की मौत भी हुई है। टिहरी और रुद्रप्रयाग जिले ने सबसे पहले कोरोना से जंग जीती है। नए संक्रमित मामले नहीं मिले तो दोनों जिलों के लिए यह बड़ी कामयाबी है। पिथौरागढ़ जिले में चार, चमोली में पांच, चंपावत में सात और पौड़ी में नौ सक्रिय मामले हैं।

नए कोरोना पॉजिटिव मामले न आने और सक्रिय मरीज ठीक होने के बाद ये जिले भी जल्द कोरोना से मुक्त हो सकते हैं। प्रभारी सचिव डॉ. पंकज कुमार पांडेय ने बताया कि टिहरी और रुद्रप्रयाग जिले में वर्तमान में एक भी सक्रिय मामला नहीं है। दोनों जिलों में सभी संक्रमित मरीज ठीक होकर घर भेजे जा चुके हैं। अन्य जिलों में भी काफी कम सक्रिय मामले हैं। प्रदेश के लिए कोरोना से जंग में यह सकारात्मक संकेत हैं।

About The lifeline Today

View all posts by The lifeline Today →

Leave a Reply

Your email address will not be published.