जानिए 1 जनवरी 2020 क्या क्या नियम बदल गए हैं, जिसका सीधा असर होगा लोगों की जेब पर

नई दिल्ली- साल 2019 बीत गया है और नया साल 2020 शुरू हो गया। नया साल शुरू होने के साथ ही वित्तीय लिहाज
से कई सारे बदलाव होने जा रहे हैं। जो की लोगों की जेब पर असर डालेंगे। तो चलिए जानते हैं उन नियमों के बारे में
विस्तार से…..
पैसे निकालने के लिए ओटीपी
SBI ने वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) आधारित एटीएम निकासी सुविधा लॉन्च की है। 1 जनवरी 2020 से एसबीआई के
ग्राहक एटीएम में रात 8 से सुबह 8 बजे के बीच 10000 रुपये तक की निकासी कर सकते हैं। ओटीपी ग्राहक के
रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आएगा। इससे ग्राहकों को फ्रॉड निकासी से बचने में मदद मिलेगी।

एटीएम डेबिट कार्ड
मैगस्ट्रिप या मैग्नेटिक स्ट्रिप वाले सभी पुराने डेबिट और एटीएम कार्ड 1 जनवरी से काम करना बंद कर देंगे। यदि
आप भी अभी तक पुराने डेबिट और एटीएम कार्ड यूज़ करें हैं तो इसे अपने बैंक से नए EMV चिप डेबिट कार्ड से बदलवा
सकते हैं। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने सभी बैंकों को पुराने डेबिट कार्ड को नए EMV- आधारित कार्ड में बदलने के लिए
कहा गया है। EMV कार्ड एक छोटे माइक्रोचिप के साथ आते हैं जो खरीदारों को धोखाधड़ी वाले लेनदेन से बचाता है।
NEFT
1 जनवरी 2020 से बैंकों के बचत खाताधारकों के लिए ऑनलाइन NEFT शुल्क माफ कर दिया गया है।
RuPay, UPI शुल्क
नए साल से मर्चेंट डिस्काउंट रेट (MDR) शुल्क देसी RuPay और UPI प्लेटफॉर्म के माध्यम से लेनदेन पर लागू नहीं
होगा। 1 जनवरी 2020 से 50 करोड़ रुपए से अधिक टर्नओवर वाली कंपनियों को अपने ग्राहकों को बिना किसी MDR
शुल्क के डेबिट कार्ड और UPI QR कोड के जरिए भुगतान की सुविधा उपलब्ध करानी होगी।

About The lifeline Today

View all posts by The lifeline Today →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *