जो हमसे टकराएगा चूर-चूर हो जाएगा – ममता

जो हमसे टकराएगा चूर चूर हो जाएगा आज से पहले यह नारा हमने स्कूल और कॉलेज से लेकर ट्रेड यूनियन के माध्यम से इस सुना था किंतु अब यह नारा देश की एक मुख्यमंत्री सू श्री ममता बनर्जी दे रही है। ज्ञात हो की मुख्यमंत्री पद एक संवैधानिक पद है एवं इस पद की बहुत बड़ी गरिमा रही है किंतु ममता बनर्जी जब से पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री बनी है उनके द्वारा राज्य एक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी की तरह कलाई जा रहा है ।

ममता बनर्जी समुदाय में ममता दीदी के नाम से जानी जाती है एवं बहुत ही तेजतर्रार राजनीतिक के तौर से भी जानी जाती है किंतु वे भूल रही है कि वे मुख्यमंत्री का दायित्व संविधान के तहत ही प्राप्त कर पाइ है। ममता बनर्जी द्वारा पिछले 8 दिनों से ज्यादा एनसीआर एवं सीएबी को लेकर रोज धरना प्रदर्शन कर रही है यह किसी भी मुख्यमंत्री को शोभा नहीं देता एवं जिस तरह के वे नारे लगा रही है , इसका स्तर बहुत ही निम्न है , भारत का संविधान इसकी इजाजत नहीं देता, पश्चिम बंगाल में जिस तरह से राज्यपाल काले झंडे दिखाए जा रहे हैं एवं ममता बनर्जी द्वारा जिस तरह से पुलिस कमिश्नर होली कर धरना प्रदर्शन किया था यह भी सर्वविदित है।

आज जिस तरह वोट बैंक को लेकर वे एक समुदाय विशेष को लेकर चल रही है, वही एनआरसी को लेकर पार्लियामेंट में एन आरसी लागू कराने के लिए तत्कालीन लोकसभा अध्यक्ष के सामने पेपर फेंके थे और आज उसी एनआरसी का वोट बैंक की खातिर पक्ष ले रही है । इस देश की जनता यह सब भली भांति देख रही है और सही समय पर इसका जवाब जनता देगी।

About The Lifeline Today

View all posts by The Lifeline Today →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *