कॉरोना रोकथाम में बुजुर्गो की अह्म भूमिका(डी डी मित्तल)

देहरादून –आज कोरोना वायरस जो कि पूरे विश्व के लिए आपदा बना हुआ है। उसे भारत दूसरे दौर से गुजर रहा है। भारत जिसमें दुनिया की सर्वाधिक जनसंख्या चीन के पश्चात 135करोड़ है। हमने कारोना के लेकर चीन की स्थिति देखीं है।  वहीं दूसरे देश इटली,फ्रांस को भी हमने कोरोना के कहर से देखा रहे है।  वहीँ  आज अमेरिका का न्यूयार्क शहर की स्थिति भी हम देख रहे है।  किंतु हम लोग यह देखकर भी सही स्थिति का आकलन नहीं कर पा रहे है। इस महामारी से सबसे ज्यादा बुजुर्ग एवं बच्चो को बचाने की आवश्यकता है।  वहीं सोशल डिस्टेंस बनाना बहुत आवश्यक है। इसके लिए हमें घर में रहकर इस महामारी के रोक थाम करने में सहयोग कर सकते है। घर के बुजुर्ग घर में रहकर मेडीटेशन करें तथा प्रकती जिसका हमने दोहन किया है। उसे  सकाश दे एवं उन आत्माएं जो कोराना से पीड़ित है उनको भी सकाश दे साथ ही बड़े होने के नाते घर के आस पास स्वच्छता बनाए रखे। बुजुर्ग घर में रहकर बच्चो के साथ इनडोर गेम आदि खेलकर उनका मनोरंजन कराए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *