प्रशिक्षण वर्गों के माध्यम से समर्पित कार्यकर्ताओं का निर्माण करना है, मिशन 2022 के लक्ष्य को हासिल करना है : बंशीधर

देहरादून : भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश के 252 मंडलों में अक्टूबर माह में आयोजित होने वाले प्रशिक्षण वर्गों के सफल बनाने के लिए कार्ययोजना बैठक होटल वॉइस राइन में सम्पन्न हुई। बैठक का शुभारंभ प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत व प्रदेश महामंत्री संघठन अजेय द्वारा द्वीप प्रज्वलित कर किया गया जिसमें भगत ने कहा कि आज कार्यकर्ताओं के समर्पण त्याग तपस्या के कारण पार्टी देश व प्रदेश के कई राज्यो की सत्ता में है हमे इन प्रशिक्षण वर्गों के माध्यम से ऐसे ही समर्पित कार्यकर्ताओं का निर्माण कर मिशन 2022 के लक्ष्य को हासिल करना है। इन वर्गों से हमे ऐसे विचारधारा को समर्पित कार्यकर्ताओं का निर्माण करना है जो आगामी 30 वर्षों तक देश व प्रदेश में भाजपा की सरकार व संगठन स्थापित करने को समर्पित हो सके। उन्होंने आह्वान किया कि इन प्रशिक्षण वर्गों को सभी लोगों ने इस कोरोना काल का ध्यान रखते हुए स्वयं की एवं दुसरो की सुरक्षा का भी ध्यान रख कर सफल बनाना है।
इस अवसर पर प्रदेश महामंत्री संघठन अजेय कुमार ने बैठक का वृत लेते हुए कहा कि प्रशिक्षण प्रक्रिया कार्यक्रम आयोजन भर नही है प्रशिक्षण से व्यक्ति निर्माण के साथ संघठन के कार्यों, उनसे जुड़े महापुरुषों व पार्टी के विचारों के बारे में गहनता से जानकारी देना है। उन्होने कहा कि भाजपा पहाड़ में चलने वाले पगडंडी के समान है उस पर निरंतर चलने से रास्ता बनता जाता है इसलिए हम सभी को उस पगडंडी पर निरंतर चलकर उसके विस्तार के लिए अच्छे व विचारधारा से जोड़ने के लिए कार्यकर्ताओं का निर्माण करना चाहिए। प्रशिक्षण से कार्यकर्ताओं में कार्य की गति उनके दृष्टिकोण में सुधार के साथ उनका मानसिक , व्यवहारिक विकास होता है जिससे उनके व्यक्तित्व में भी निखार आता है।
अजेय कुमार ने कहा कि पार्टी में लोग व्यक्ति के प्रभाव या संघठन के विचारों के कारण जुड़ते हैं हमें उन्हें प्रशिक्षित कर उनमें व्यक्ति से नही तंत्र से जुड़ने का भाव विकसित करना चाहिए। प्रशिक्षण का उद्देश्य कार्यक्रम आयोजन नही इसके माध्यम से उनमें विचारवान कार्यकर्ता निर्माण व संघठन की विचारधारा का भाव विकसित करने के साथ पार्टी की रीति नीति से अवगत कराना है साथ ही प्रशिक्षण से अनुशासन में रहकर अभिव्यक्ति की भी सीख मिलती है। उन्होंने बैठक में उपास्थि जिलों से आये प्रशिक्षण प्रमुख व जिलाध्यक्षो से मंडल स्तर पर जिले की भांति प्रशिक्षण टोली शीघ्र बनाने के लिये कहा है। इस अवसर पर प्रदेश महामंन्त्री प्रशिक्षण कार्यक्रम को देख रहे राजेन्द्र भंडारी ने कहा कि प्रशिक्षण का उद्देश्य हरेक कार्यकर्ताओं में पंडित दीनदयाल उपाध्याय व श्यामा प्रसाद मुखर्जी जैसे विचार व संस्कारों का निर्माण करना है साथ ही उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण मिशन 2022 के लक्ष्य को ध्यान में रखकर उनमें किसी प्रकार का कोई विचलन न हो उसे दूर कर उनमें सबसे पहले राष्ट्रहित सर्वोपरी है का भाव उनमें जगाना है। उन्होंने कहा कि इस प्रशिक्षण वर्ग के माध्यम से हम प्रदेश में 15 हजार कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित कर आदर्श कार्यकर्ताओं का निर्माण करना है।
इस अवसर पर प्रान्त प्रशिक्षण प्रमुख सरकार में दर्जाधारी मंत्री ज्योति प्रसाद गैरोला ने प्रशिक्षण वर्ग के आगामी कार्यक्रमों की जानकारी दी। मंडल प्रशिक्षण वर्ग की इस कार्ययोजना बैठक में प्रदेश पदाधिकारियों, जिलाध्यक्षों प्रान्त प्रशिक्षण टोली व जिला प्रशिक्षण प्रमुख व सह प्रशिक्षण प्रमुखों ने भाग लिया। बैठक का संचालन प्रदेश महामंत्री कुलदीप कुमार द्वारा किया गया। बैठक में समापन सत्र में प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंन्द्र सिंह रावत ने कहा कि राजनीति हमारे लिए पेशा नही एक सेवा का मिशन है ये संस्कार प्रशिक्षण के माध्यम से ही भाजपा कार्यकर्ताओं को दिए जाते हैं उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के रीति नीति का आवश्यक अभिन्न हिस्सा है प्रशिक्षण जन संघ से लेकर भाजपा में कार्यकर्ताओं को परिपक्वता के लिए दिए जाते कार्यकर्ताओं में राजनीतिक सामाजिक व्यवहारिक समझ बढ़ाने के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रमो का आयोजन होता है।प्रशिक्षण से कार्यकर्ताओं में संस्कार व विचारों का विकास होता है प्रशिक्षित कार्यकर्ता किसी व्यक्ति से नही विचार के साथ जुड़कर सदैव पार्टी के प्रति समर्पित रहता है।
मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर पर्यटन दिवस की बधाई देते हुए कहा कि हमारा प्रदेश दुनिया का सबसे बड़ा पर्यटक हब बन सकता है इस दिशा में प्रदेश सरकार ने 13 जिले 13 पर्यटक डेस्टिनेशन विकसित करने की दिशा में कदम उठाए हैं साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने प्रदेश में महत्वाकांक्षी कल्याणकारी योजनाओं का शुभारंभ कर देश मे भी कृतिमान स्थापित किया है प्रदेश ने स्वास्थ्य योजनाओं उड़ान योजना में प्रथम स्थान प्राप्त किया है उन्होंने कहा कि आत्मा निर्भर भारत योजना के अन्तर्गत सैकड़ो लोगो को रोजगार के लिए पहाड़ी जिलों में स्वरोजगार योजनाओं से लोगो को जोड़ा गया है। उन्होंने कहा कि पहाड़ में पहली बार जिसकी कोई कल्पना भी नही कर सकते 8 हजार करोड़ रुपये का निवेश हुवा है मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत 10 हजार उधम स्थापित हुए हैं।

About The lifeline Today

View all posts by The lifeline Today →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *