मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कोरोना के संबंध में प्रदेश में की जा रही तैयारियों के संबंध में की बैठक

देहरादून–  बुधवार को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कोरोना के संबंध में प्रदेश में की जा रही तैयारियों के संबंध में बैठक की। उन्होंने कहा कि केंद्र ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में एनसीसी स्वयंसेवकों का सहयोग लेने की अनुमति दे दी है। इसी के साथ मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना धर्म, मत एवं संप्रदाय नहीं देखता। ऐसे में सबको एकजुट होकर इसके खिलाफ लड़ना होगा। कोई यदि बाहर से आया है तो उसे इसकी सूचना अनिवार्य रूप से प्रशासन व स्वास्थ्य महकमें को देनी चाहिए।  किसी के पड़ोस में भी यदि किसी को कोरोना के लक्षण नजर आते हैं तो इसकी सूचना प्रशासन को दी जाए। उन्होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में एनसीसी स्वयंसेवकों की भी मदद ली जा सकती है। इसके लिए उन्हें प्रशिक्षित किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने इस दौरान अप्रैल में जनधन खातों में आने वाली पेंशन को देखते हुए बैंकों में भीड़ न लगाने और सुरक्षित शारीरिक दूरी के संबंध में उचित कदम उठाने के भी निर्देश दिए।उन्होंने कहा कि राज्य व जिलों की सीमाएं बंद होने के कारण जो लोग यहां रह गए हैं उनके खाने पीने व रहने का पूरा इंतजाम किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने इस दौरान गरीबों व जरूरतमंदों के खाने-पीने का इंतजाम करने वालों को भी धन्यवाद दिया। उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा 31 मार्च को 35 हजार लोगों को खाने के पैकेट पहुंचाने का जिक्र भी किया। उन्होंने लोगों से आसपड़ोस में घूमने वाले जानवरों को खाना देने की भी अपील की। बैठक में मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश व सचिव वित्त अमित नेगी भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.