उत्तराखंड निवासी एक और सैनिक लापता, पाकिस्तान नहीं पहुंचा भारत का जवान, ये है आशंका

11वीं गढ़वाल राइफल के लापता जवान का कोई सुराग नहीं है। पज्याणा गांव निवासी हवलदार राजेंद्र सिंह नेगी आठ जनवरी को भारत-पाकिस्तान सीमा पर ड्यूटी के दौरान लापता हो गए थे। पहले बर्फ में फिसलकर पाकिस्तान जाने की खबरें  प्रकाशित हुई थी अब सेना की और से आई जानकारी के अनुसार, हवलदार राजेंद्र सिंह पाकिस्तान के कब्जे में नहीं हैं। जिस जगह वो लापता हुए वहां 5 से 6 फ़ीट बर्फ पड़ी है, सेना उनकी तलाश में जुटी है ऐसे में उनके बर्फ में दबने की आशंकाएं गहरा गई हैं। घर वालों को सेना की तरफ से कोई सूचना भी नहीं दी गई है।

वहीं, उत्तराखंड निवासी एक और जवान लापता बताया जा रहा है। 14 असम राइफल में तैनात अनिल पुरोहित रहस्यमय तरीके से तीन जनवरी से लापता है। जवान चमोली के थराली तहसील गांव सुनाऊं के रहने वाले हैं। तीन जनवरी को उन्होंने आखिरी बार घर फ़ोन किया था। फ़ोन पर उन्होंने आसाम के दीनापुर से निकलने की बात की थी, उन्होंने कहा था कि एक माह की छुट्टी आ रहे है, लेकिन वह आज तक घर नहीं पहुंचा। जवान के ससुर ने थराली थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है।

About The Lifeline Today

View all posts by The Lifeline Today →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *