राज्य में सोमवार को कोरोना के 336 नए मामले मिले, 6 की हुई मौत

उत्तराखंड : राज्य में पिछले कुछ दिनों में कोरोना संक्रमित मामलों की रफ्तार में कम आई है। सोमवार को राज्य में 336 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले। इसकी तुलना में ठीक होने वालों की संख्या बढ़ी है। पहली बार राज्य की रिकवरी दर 88 प्रतिशत से अधिक पहुंची है। संक्रमितों की कुल संख्या 58360 हो गई है, जिसमें से अब तक 51486 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं।
स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, सोमवार को 11632 सैंपल की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। 12 प्रतिशत सक्रिय मरीज ही अस्पतालों में भर्ती और होम आइसोलेशन में हैं।
सोमवार को देहरादून जिले में सबसे ज्यादा 84 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। इसके अलावा पौड़ी में 82, चमोली में 62, नैनीताल में 25, ऊधमसिंह नगर में 19, उत्तरकाशी में 18, हरिद्वार में 16, पिथौरागढ़ में 10, रुद्रप्रयाग में 8, बागेश्वर व चंपावत में 4-4, टिहरी में 3, अल्मोड़ा जिले में 01 कोरोना संक्रमित मामला मिले। राज्य में सोमवार को कुल छह कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हुई है। कोरोना संक्रमितों की मौत का कुल आंकड़ा 933 हो गया है।

बने नए कंटेनमेंट जोन
देहरादून जिले में कोरोना संक्रमितों के मिलने पर सोमवार को दो इलाकों को कंटेनमेंट जोन बना दिया गया है। जिलाधिकारी डॉ. आशीष कुमार श्रीवास्तव ने इसके आदेश जारी किए। उन्होंने बताया कि नगर निगम देहरादून के 215 रक्षा विहार फेज-2 दून वल्र्ड के पीछे रायपुर रोड एवं सिटी बोर्ड स्कूल वाली गली 23 धर्मपुर में कोरोना संक्रमित लोग मिले। जिसके बाद इन दोनों इलाकों को कंटेनमेंट जोन बना दिया गया है। साथ ही जांच के लिए 1879 सैंपल भेजे गए।
डीएम ने आगे बताया कि अस्पतालों में कोरोना मरीजों के लिए 192 आईसीयू बेड खाली हैं। सार्वजनिक स्थानों पर मास्क न लगाने पर 299 लोगों के चालान किए गए। आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों  ने 22,027 व्यक्तियों का सर्विलांस किया।
डीएम ने मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की भी अपील की। साथ ही अगर कोरोना का लक्षण दिखाई देता है, तो जांच कराने की भी बात कही। उन्होंने कोरोना संक्रमण संबंधी जानकारी के लिए टोल फ्री नंबर 112, 104, 1077 के साथ ही आपदा परिचालन केंद्र के फोन नबंर 0135-2726066 एवं 2724506 पर संपर्क करने की बात कही। साथ ही स्थानीय निकायों के अधिकारियों को कूड़ा उठान वाले वाहनों के जरिये लोगों को जागरूक करने के निर्देश दिए हैं।

About The lifeline Today

View all posts by The lifeline Today →

Leave a Reply

Your email address will not be published.